गोपालन मंत्री ने किया हिंगोनिया गौशाला का औचक निरीक्षण

पशुपालन एवं गोपालन मंत्री श्री प्रभुलाल सैनी ने शनिवार को हिंगोनिया गोशाला का आकस्मिक निरीक्षण कर यहां की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। श्री सैनी ने गोशाला में पशुचिकित्सा सेवाओं की समीक्षा की और व्यवस्थाएं दुरूस्त करने के निर्देश दिए।  श्री सैनी ने निरीक्षण के दौरान पशुपालन विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि वे हिंगोनिया गोशाला में पशुचिकित्सा व्यवस्था में किसी भी तरह की लापरवाही व कोताही को किसी भी सूरत में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने बताया कि गायों के उपचार या देखभाल में कोताही बरतने वाले कार्मिकों पर सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने पशुचिकित्सालय में जाकर गायों की चिकित्सा व्यवस्था का जायजा किया। मीडिया से बातचीत में श्री सैनी ने बताया कि हिंगोनिया गौशाला में चिकित्सा व्यवस्था संतोषजक पाई गई है, यहां दवाईयों की भी पर्याप्त व्यवस्था है। आवश्यकता पड़ने पर अतिरिक्त स्टाफ की भी व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने कहा कि गौवंश के संरक्षण और संवद्र्धन के लिए राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ काम कर रही है। उन्होंने गोशाला के वार्ड नम्बर 3 में जाकर सभी गायों के बारे में जानकारी ली। इस वार्ड में उन्होंने कई बीमार गायों को खुद चारा खिलाया और पानी भी पिलाया। इस अवसर पर उनके साथ पशुपालन विभाग के सचिव श्री कुंजीलाल मीणा, पशुपालन विभाग के निदेशक श्री अजय कुमार गुप्ता सहित पशुपालन और गोशाला में कार्यरत डॉक्टरों की टीम उपस्थित थी।