भारत-प्रशांत द्वीपसमूह सहयोग फोरम का शिखर सम्मेलन आज से जयपुर में

भारत-प्रशांत द्वीपसमूह सहयोग फोरम का शिखर सम्मेलन (Forum for India-Pacific Islands Cooperation (FIPIC) Summit) आज से जयपुर में हो रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस सम्मेलन का उद्घाटन करेंगे। इस सम्मेलन में भारत सहित इस क्षेत्र के 15 देशों के राष्ट्राध्यक्ष भाग ले रहे हैं। भारत- प्रशांत द्वीप समूह सहयोग मंच, फिपिक, के लिए भारत आए 14 देशों के राष्ट्राध्यक्षों का राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने कल राष्ट्रपति भवन में स्वागत किया। दरअसल भारत का प्रशांत महासागरीय देशों के साथ संबंध काफी अहम है। भारत का प्रशांत महासागरीय देशों के साथ द्विपक्षीय व्यापार वर्ष 2012 में 22 करोड़ 80 लाख डॉलर रहा था जिसमें 58 प्रतिशत से अधिक पापुआ न्यू गिनी के साथ था जबकि दूसरे नंबर पर फिजी था। लिहाज़ा यह सम्मेलन प्रशांत महासागर में स्थित इन द्वीपीय देशों के साथ भारत के व्यापारिक एवं रणनीतिक संबंधों को मजबूती देने में अहम साबित होगा।
इससे पहले  प्रधानमंत्री श्री नरेन्‍द्र मोदी ने एफआईपीआईसी शिखर सम्‍मेलन के लिए भारत आने वाले सभी नेताओं और प्रतिनिधियों का स्‍वागत किया था । प्रधानमंत्री ने कहा, ‘‘मैं भारत-प्रशांत द्वीपसमूह सहयोग फोरम (एफआईपीआईसी)  के लिए भारत आने वाले सभी नेताओं और प्रतिनिधियों का स्‍वागत करता हूं। मैं एफआईपीआईसी शिखर सम्‍मेलन से काफी उम्‍मीद रखता हूं। मुझे पूरा विश्‍वास है कि इससे प्रशांत द्वीपसमूह के देशों के साथ भारत का संबंध मजबूत होगा।’’