मुख्यमंत्री स्किल इंडिया कार्यक्रम के शुभारम्भ समारोह में शामिल हुईं

मुख्यमंत्री श्रीमती वसुंधरा राजे बुधवार को नई दिल्ली के विज्ञान भवन में प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा ‘‘स्किल इंडिया’’ कार्यक्रम के शुभारंभ समारोह में शामिल हुईं। इस अवसर पर प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना का शुभारम्भ, कौशल विकास नीति का विमोचन एवं स्किल इंडिया कार्यक्रम का लोगो जारी किया गया। भारत सरकार द्वारा शुरू किए गए इस महत्वाकांक्षी कार्यक्रम के माध्यम से देशभर में कौशल विकास के कार्यक्रमों को व्यापक मंच प्रदान किया जाएगा। इस मौके पर मुख्यमंत्री श्रीमती राजे ने कहा कि यह एक अनूठा कार्यक्रम है। जिससे देश के लाखों बेरोजगारों की महत्वाकांक्षाओं की पूर्ति हो सकेगी। साथ ही लाखों कामगारों की माली हालत एवं आर्थिक विकास में यह योजना मील का पत्थर साबित होगी। उन्होंने कहा कि देश के लाखों युवाओं की प्रतिभा को निखारकर उनके कौशल को विकसित करना बहुत जरूरी है, ताकि वे देश और दुनिया की प्रगति में भागीदार बन सकें।
समारोह में केंद्रीय मंत्री, विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्री और गणमान्यजन मौजूद थे। केंद्रीय कौशल विकास सचिव श्री सुनील अरोड़ा ने समारोह में मौजूद सभी लोगों का आभार व्यक्त किया। उल्लेखनीय है कि राजस्थान सरकार कौशल विकास के लिए गंभीर प्रयास कर रही है। राज्य सरकार ने करीब 15 लाख से अधिक युवाओं का कौशल विकास कर रोजगार के अवसर उपलब्ध करवाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। राज्य सरकार ने हाल ही सिंगापुर की संस्था के साथ उदयपुर में राजकीय आई.टी.आई को अंतराष्ट्रीय स्तर के कौशल प्रशिक्षण केन्द्र के रूप में विकसित करने का कार्य शुरू किया है। राज्य सरकार ने ‘दीनदयाल उपाध्याय ग्रामीण कौशल योजना’ के तहत देश का पहला कौशल विकास केन्द्र भी उदयपुर में शुरू किया है। इसी प्रकार राज्य में बाॅम्बे स्टाॅक एक्सचेंज इंस्टीट्यूट के साथ वित्तीय क्षेत्रा में ‘‘सेंटर आॅफ एक्सीलेंस’’ स्थापित करने का कार्य आरंभ किया है। उद्योगों की आवश्यकता को देखते हुए राज्य में 33 उच्च समृद्धि आर्थिक क्षेत्रों में क्षेत्रा विशेष योजनाएं लागू की गई हैं। साथ ही टोयोटा, सैमसंग, कैटर पिलर एवं अन्य उद्योगों के साथ आईटीआई में उद्योग आधारित कार्यक्रम प्रांरभ किए जा रहे हैं। इसके अलावा राज्य में एम्पाॅलयमेंट लिंक्ड स्किल टेªनिंग प्रोग्राम के तहत एक प्रभावी कन्वर्जेन्स माॅडल लागू किया गया है।