36वें भारतीय अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में पी.पी. चौधरी ने किया राजस्थान मण्डप का शुभारंभ

नई दिल्ली के प्रगति मैदान में सोमवार को शुरू हुए चौदह दिवसीय 36वें भारतीय अन्तर्राष्ट्रीय व्यापार मेले में केन्द्रीय विधि एवं न्याय, इलेक्ट्रॉनिक एवं सूचना प्रौद्योगिकी राज्यमंत्री श्री पी.पी. चौधरी ने राजस्थान मंडप का फीता काट कर एवं दीप प्रज्वलित कर शुभारंभ किया। इस अवसर पर राजस्थान लघु उद्योग निगम लिमिटेड (राजसिको) के अध्यक्ष श्री मेघराज लोहिया भी उपस्थित थे। राजस्थान लघु उद्योग निगम के कंपनी सचिव एवं मण्डप निदेशक श्री रवि अग्रवाल ने केन्द्रीय राज्यमंत्री श्री चौधरी एवं  राजसिको अध्यक्ष श्री लोहिया का मंडप में पुष्पगुच्छ भेंट कर स्वागत किया। श्री चौधरी ने सर्वप्रथम मुख्य थीम एरिया में  ‘‘डिजीटल इंडिया’’ थीम से प्रेरित ’’डिजीटल राजस्थान’’ थीम पर सजाये संवारे गये जोधपुर के मेहरानगढ़ किले के स्वर्ण मंडित फूल महल का झरोखा और उसके जिसके पीछे मोती महल की बहुरंगी शीशा जड़ित दीवार की मनमोहक प्रतिकृति के सामने गणेश प्रतिमा की पूजा-अर्चना की और लड्डू का भोग चढ़ाया।
मंडप में राजस्थानी स्थापत्य कला के विभिन्न रंगों से सजे-धजे जोधपुर के मेहरानगढ़ किले के स्वर्ण मंडित फूल महल का झरोखा, जिसके पीछे मोती महल की बहुरंगी शीशा जड़ित दीवार की मनमोहक प्रतिकृति की नयनाभिरामी झांकी के साथ ही मंडप के मुख्य द्वार को जयपुर शैली की पेटिंग्स से सुसज्जित किया गया है। मुख्य द्वार के दोनाें ओर ऊपर बड़ी-बड़ी एलईडी स्क्रीनों द्वारा राजस्थान में डिजीटल क्रांति एवं विकास से संबंधित योजनाओं का प्रसारण किया जा रहा है।      केन्द्रीय मंत्री श्री चौधरी ने मंडप के एक-एक स्टॉल को देखा और राज्य के विभिन्न क्षेत्रों से व्यापार मेले में भाग लेने आये उद्यमियों से बातचीत की। उन्होने राजस्थान के विश्व प्रसिद्व हस्तशिल्प उत्पादों को विशेष रूप से देश-विदेश में धूम मचाने वाली राजस्थानी साड़ियों, अन्य हस्तशिल्प वस्तुओं में लाख की चूड़ियॉ, महिलाओं के श्रृंगार के विविध आईटम्स, जयपुरी रजाईयां, टैैक्सटाईल्स का सामान, चद्दरे, महिलाओं के सलवार सूट, राजस्थान प्रिंट की चद्दरे, सजावटी सामान, संगमरमर के उत्पाद और ज्वैलरी आदि की प्रशंसा की।

Ramdev plans to set up mega food park in Rajasthan

Yoga guru Ramdev today announced plans to set up a mega food park in Rajasthan and said his Patanjali group, which is entering into dairy and spices segments, can buy farm produce worth Rs 5,000-10,000 crore from farmers in the state. "I along with Patanjali will support Rajasthan Chief Minister in all her endeavours. The company is entering into milk industry and Patanjali would be keen to make Rajasthan a part of its journey," Ramdev said at the Global Rajasthan Agritech Meet here. "Patanjali is coming in large scale in spices. We will purchase them from Rajasthan and other states and process," he said. He added that besides spices, the company will also make available cow milk. Ramdev said his group is gearing up to buy milk from the state from next year. "If we get sufficient milk, we can leave behind amul though we have no competition with Amul." He also asked farmers of the state to grow aloe vera, gooseberry, giloy, ashwagandha, pearl millet and said that he was ready to purchase the produce in maximum quantity. "We are ready to purchase those produce worth even 5 to 10 thousand crores rupees," he said. 
Rajasthan Chief Minister Vasundhara Raje stated that the state stand committed to transforming its agricultural landscape by actively promoting global best practices. "With surplus production of food grains, milk and pulses, the state is geared up to adopt multiple innovations such as digital soil mapping, use of drones for effective input management, employing innovative protected cultivation methods, zero budget natural farming or technology enabled traceability systems," she said. Raje also said that Rajasthan has evolved as a strong investment friendly state and the Government is constantly working towards ensuring that these investments and benefit all stakeholders. "Within just one year of holding the Resurgent Rajasthan Summit 2015, projects valued at almost Rs 5,000 crore have already been implemented and projects worth Rs 54,000 crore and Rs 49,000 crore are under construction and under various stages of clearance respectively. "Excluding the solar energy projects, the total likely investment to be grounded is Rs 1.08 lakh crore or 74 per cent of the investment commitments. This would be one of the fastest and highest conversion rates for any State in the country," she said.

500 और 1000 के नोट 9 नवम्बर 2016 से बंद


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्र को संबोधित करते हुए कहा कि मध्य रात्रि या 9 नवम्बर 2016 से 500 और 1,000 रुपये के नोट अमान्य होंगे। इसके अलावा सभी नोट और सिक्के मान्य रहेंगे। पीएम ने कहा कि इस कदम से भ्रष्टाचार और कालेधन पर लगाम लगाने में मदद मिलेगी। 500 और 1,000 रुपये के पुराने नोट 10 नवंबर से 30 दिसंबर 2016 तक आप अपने बैंक या पोस्टऑफ़िस के खाते में जमा करवा सकते हैं। इसके अलावा 31 मार्च 2017 तक रिज़र्व बैंक ऑफ इंडिया की शाखाओं में भी 500 और 1,000 के अमान्य घोषित किए गए नोट जमा कराए जा सकेंगे।
नई व्यवस्था के चलते बैंक और डाकघर जैसी वित्तीय संस्थाओं पर काम का बोझ बढ़ेगा, लिहाजा 9 नवंबर को बैंक और डाकघर आम जनता के लिए बंद रहेंगे।प्रधानमंत्री ने कहा कि अब 500 और 2,000 रुपये के नए डिजाइन किए गए नोट सर्कुलेशन में लाए जाएंगे। पीएम ने राष्ट्र निर्माण में योगदान के लिए लोगों से नई व्यवस्था में सहयोग की अपील की है।

राजस्थान में वर्ष 2017 की छुट्टियां | Rajasthan Holidays 2017

राज्य सरकार ने एक विज्ञप्ति जारी कर कलैण्डर वर्ष 2017 के दौरान 29 सार्वजनिक तथा 21 ऎच्छिक अवकाश घोषित किये हैं। प्रमुख शासन सचिव, सामान्य प्रशासन विभाग श्री पवन कुमार गोयल से प्राप्त जानकारी के अनुसार निम्न छुट्टियां है।

  1. गुरुवार पांच जनवरी, 2017 का गुरु गोबिन्द सिंह जयन्ती, 
  2. गुरुवार 26 जनवरी गणतंत्र दिवस, 
  3. शुक्रवार 24 फरवरी महाशिवरात्रि, 
  4. रविवार 12 मार्च होलिका दहन, 
  5. सोमवार 13 मार्च धूलण्डी, 
  6. बुधवार 29 मार्च चेटीचण्ड, 
  7. मंगलवार 4 अप्रेल श्री रामनवमी, 
  8. रविवार 9 अप्रेल श्री महावीर जयन्ती, 
  9. शुक्रवार 14 अप्रेल गुडफ्राइडे, 
  10. शुक्रवार 14 अप्रेल डॉ. अम्बेडकर जयन्ती, 
  11. रविवार 28 मई महाराणा प्रताप जयन्ती, 
  12. सोमवार 26 जून ईदुलफितर, 
  13. सोमवार 7 अगस्त रक्षाबंधन, 
  14. मंगलवार 15 अगस्त स्वतंत्रता दिवस, 
  15. मंगलवार 15 अगस्त जन्माष्टमी, 
  16. गुरुवार 31 अगस्त रामदेव जयन्ती व तेजा दशमी, 
  17. शनिवार 2 सितम्बर ईदुलजुहा, 
  18. गुरुवार 21 सितम्बर नवरात्र स्थापन, 
  19. गुरुवार 28 सितम्बर दुर्गाष्टमी, 
  20. शनिवार 30 सितम्बर विजयदशमी, 
  21. रविवार एक अक्टूबर मोहर्रम (ताजिया), 
  22. सोमवार 2 अक्टूबर महात्मा गांधी जयन्ती, 
  23. गुरुवार 19 अक्टूबर दीपावली, 
  24. शुक्रवार 20 अक्टूबर गोवर्धन पूजा, 
  25. शनिवार 21 अक्टूबर भैया दोज, 
  26. शनिवार 4 नवम्बर गुरुनानक जयन्ती, 
  27. शनिवार 2 दिसम्बर बारावफात, 
  28. सोमवार 25 दिसम्बर क्रिसमस डे
  29. सोमवार 25 दिसम्बर, 2017 को गुरुगोबिन्द सिंह जयन्ती का सार्वजनिक अवकाश घोषित किया गया है। 
ऎच्छिक अवकाश 2017: 

  1. रविवार एक जनवरी, 2017 को क्रिसमस नव वर्ष दिवस, 
  2. शुक्रवार 3 फरवरी देवनारायण जयन्ती, 
  3. गुरुवार 9 फरवरी विश्वकर्मा जयन्ती, 
  4. शुक्रवार 10 फरवरी स्वामी रामचरण जयन्ती, 
  5. शुक्रवार 10 फरवरी गुरु रविदास जयन्ती, 
  6. सोमवार 13 फरवरी गाडगे महाराज जयन्ती, 
  7. मंगलवार 21 फरवरी महर्षि दयानन्द सरस्वती जयन्ती, 
  8. गुरुवार 13 अप्रेल वैशाखी, 
  9. 23 अप्रेल सैन जयन्ती, 
  10. शुक्रवार 28 अप्रेल परशुराम जयन्ती, 
  11. बुधवार 10 मई बुद्ध पूर्णिमा, 
  12. शुक्रवार 12 मई शब-ए-बारात, 
  13. शुक्रवार 23 जून जुमातुलविदा, 
  14. रविवार 9 जुलाई गुरु पूर्णिमा, 
  15. सोमवार 14 अगस्त थदडी, 
  16. शुक्रवार 25 अगस्त गणेश चतुर्थी, 
  17. शनिवार 26 अगस्त संवत्सरी, 
  18. मंगलवार 5 सितम्बर अनन्त चतुर्दशी, 
  19. 29 सितम्बर महानवमी, 
  20. रविवार 8 अक्टूबर करवा चौथ 
  21. मंगलवार 12 दिसम्बर, 2017 को पाश्र्वनाथ जयन्ती का ऎच्छिक अवकाश घोषित किया गया है।

DIPP declares Rajasthan a Leader in ease of Doing Business

In the Ease of Doing Business rankings published by the Department of Industrial Policy Promotion, Government of India (DIPP), Rajasthan has led several Indian states in introducing and implementing business reforms. The DIPP assessment, conducted in partnership with the World Bank, listed Rajasthan as one of India’s Leaders amongst the 32 states and Union Territories evaluated for the exercise.   The assessment is based on the states’ implementation of DIPP’s 340-point Business Reform Action Plan (BRAP)for 2015-16. Rajasthan implemented 96.43% of the BRAP,as against 98.78% implementation score of Andhra Pradesh and Telangana which led the ranking but significantly more than the national average of 48.93%. With this, Rajasthan has been moved to the Leader category from the Aspiring Leader category, where it was in last year’s rankings.   Commenting on the ranking, Gajendra Singh Khimsar, Minister of Industries,Government of Rajasthan stated,“We have worked hard over the past year to strengthen the business and investor environment in the state, and are proud of the progress we have made. Our implementation score has increased by over 30% in the last year, and four of our reform activities have been recognized as national best practices. These achievements are testament to the effectiveness of the Rajasthan Model of Development, andwe shall continue to build on this successfor the benefit of the people of Rajasthan and of the industries and investors that work with us.” Four of the state’s reform activities have been deemed national best practices: development of legally-valid master plans/zonal plans/land use plans for all urban areas; making the master plans/zonal plans/land use plans conveniently and easily available online; allowing building plan approval certificates to be downloaded via an online portal; and, enabling industries to submitan application, make a payment, and track and monitor requests for a water connection.   Additionally, Rajasthan has been recognized amongst the top 5 states in the country for enabling 9 of the center’s 10 core reform areas: construction permits, environmental registrations, labour regulation, obtaining electricity connection, online filing of tax returns, inspection, access to information and transparency, single window clearance, and commercial dispute resolution.  

एनएचएम भर्ती की ‘ग्रुप-सी‘ लिखित परीक्षा के परिणाम घोषित

प्रदेश में राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत् संविदा पदों पर भर्ती हेतु 16 अक्टूबर 2016 को आयोजित ‘ग्रुप-सी, ई, एवं एफ‘ की लिखित परीक्षा के परिणाम घोषित कर दिये गये हैं। परीक्षा में शामिल समस्त आवेदकों के प्राप्तांक विभागीय वेब साईट http://www.rajswasthya.nic.in/NewAppointment.htm पर अपलोड़ कर दिये गये हैं। मिशन निदेशक एनएचएम श्री नवीन जैन ने बताया कि ग्रुप-सी में संविदा आधारित जिला आशा समन्वयक, जिला पीसीपीएनडीटी समन्वयक, आर.के.एस.के. समन्वयक, सोशियल वर्क-आरबीएसके, ब्लॉक कार्यक्रम प्रबंधक एवं फील्ड मॉनीटर-आरआई पद शामिल हैं। उन्होंने बताया कि ग्रुप-ई में अकाउन्टेन्ट एवं ग्रुप-एफ में ब्लॉक आशा फैसिलिटेट, पीएचसी आशा सुपरवाईजर के संविदा पदों पर लिखित परीक्षा आयोजित की गयी थी।

प्रो. सांवर लाल जाट ने किया किसान आयोग के अध्यक्ष का पदभार ग्रहण

अजमेर से लोकसभा सांसद प्रो. सांवर लाल जाट ने 24 अक्टूबर को पंत कृृषि भवन में सुबह 11 बजे राजस्थान किसान आयोग के अध्यक्ष पद का कार्यभार ग्रहण किया। उन्होंने इस अवसर पर कहा कि किसानों की सभी समस्याओं का अध्ययन कर, सरकार को इनके समाधान की सिफारिश की जाएगी। इस अवसर पर चिकित्सा एवं स्वास्थ्य मंत्री श्री राजेन्द्र राठौड़, कृृषि मंत्री श्री प्रभुलाल सैनी, राजस्व राज्य मंत्री श्री अमराराम सहित अनेक जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

Rajasthan government challenges Salman Khan's acquittal in Supreme Court

Rajasthan government has approached the Supreme Court against the acquittal of actor Salman Khan in two 18-year-old cases of deer poaching, a blow for the controversial actor who has had several run-ins with the law. Salman was acquitted by the Rajasthan HC on July 25 this year in the two cases - poaching of two chinkaras at Bhawad on September 26-27, 1998 and poaching of another one in the Ghoda Farm area on September 2829, 1998 in Jodhpur. 
In 2006, a trial court in Jodhpur had sentenced Salman to five years and a year of imprisonment in both cases respectively . The state's additional advocate general Shiv Mangal has now moved the Special Leave Petitions (SLPs) in the apex court. Additional advocate general K L Thakur, who represented the state in the HC at Jodhpur, recommended to the state government that the actor's acquittal be challenged before the SC.